सिर्फ उम्र-कैद ? ईश्वर तो उनसे हिसाब भी लेगा !!!

 

कोर्ट ने सांप्रदायिक दंगों को कैंसर करार देते हुए कहा कि नरोडा पाटिया भारतीय संविधान के इतिहास में एक काला अध्याय है। कोर्टने कहा, ‘नरोडा पाटिया में 97 लोगों का एक ही दिन में कत्लेआम कर दिया गया। इसमें असहाय औरतें, बच्चे और बुजुर्ग लोग भी शामिल थे। नरसंहार कितना क्रूर और शर्मनाक था यह इससे पता चलता है कि दंगाइयोंने 20 दिनके एकनवजात बच्चेको भी मारडाला।’   

लोग कहते ये लोकतंत्र पर काला धब्बा है . ये बात सही है , सीखो का नरसंहार हुआ इससे भी ज़्यादा समय हो गया है मगर पीड़ितो को न्याय नही मिला है|  लोकतंत्र पर कई काले धब्बे है | गोधरा दुर्धर्ष अपराध था और उसके जिम्मेदार लोगोंको फाँसी होनी चाहिए |  किसी भी दंगे शुरुआत के 10 मिनट किसी आकस्मिक घटना की प्रतिक्रिया होती है और इस 10 मिनट के बाद यही आकस्मिक घटना दंगे का रूप का भयानक रूप धारण कर प्रायोजित और आयोजित बन जाते है ! फिर इनका पर्दे के पीछे से धर्म और समाज के नाम पर संचालन किया जाता है ! ये किसी भी दंगे की एक वास्तविक प्रकृति है!                                                                               

जोलोग किसीभी प्रकार कि घृणा या स्त्री , अबोध शिशुओं की हत्या को “धर्म” समझते हों या समझाना चाहते हों, वे कृपया यहाँसे चले जायें !  गुजरात जहाँ ‘वैष्णव जन तो तेने कहिये, जो पीर पराई जाने रे’ ! से उपजा है|

मुझे अपने हिन्दू होने के लिए किसी हत्यारे के समर्थकों की गवाही नहीं चाहिई | इस नरोडा पाटिया तरह के दंगे सिर्फ़ सत्ता को निरंतर बनाए रखने के लिए प्रायोजित या आयोजित किए जाते है ! ये वर्तमान मे इस देश के कुछ राजनीतिक दलों की रणनीति भी बन गयी है| माया कोडनानी तो स्त्री-रोग की डाक्टर हैं ! कैसे उन्होंने विद्वेष की आग में लोगों को जला डालने की जिदको अपना मकसद बना लिया ? बाबूबजरंगी ने कैसे एक गर्भवती माँ के पेट फाड़कर भ्रूण निकाल लिया और क्रूरता की कुटिल आग में  फेंक दिया ! उफ्फ ..!!!!!!!! एसआईटी कोर्टने नरोडा पाटिया नरसंहार मेंबेहद सख्त सजा सुनाते हुए इस नरसंहार के कई दर्दनाक पहलुओं का जिक्र भी किया।एसआईटी कोर्ट ने पूर्व मंत्री माया कोडनानी, वीएचपी नेता बाबू बजरंगी व 29 अन्य को अलग-अलग धाराओं के तहत उम्रकैद की सजा सुनाई

सिर्फ उम्र-कैद ?

सिर्फउम्र-कैद ? ईश्वर तो उनसे हिसाब भी लेगा !!!

 

 

 

 

note-kisi v prakar ke dharmik bhawnaoo ka ahit na ho iska khayal rakhne ki kosis ki gayi hai

navbharat times aur ibn.in etc se post ekatrit ki gayi,photo dosto ke fb gallery se

8 thoughts on “सिर्फ उम्र-कैद ? ईश्वर तो उनसे हिसाब भी लेगा !!!

      • you are appelutely right vishal ….ye gandi politics cheej hi aisi hai jiske nashe me choor ye mantri santri insaniyat bhool chuke hai…. mujhe dukh hai ki mere pyaare se desh ko jo kabhi sone ki chiriyaa ke naam se jana jata tha aaj sirf sansar me log is gandgi or hinsaa ki wajay se jaan rahe hai……. we need a strong revolution …. for kind sake is baar ye aandolan anna ji type naa ho ishwar se yahi praarthna hai…..

      • anna nadolan bhatak gayi
        kyu?
        megha patekar 20 sal se narmada bachane ke liye sarkar se lad rahi hai
        aur kejriwal team 16 mahine may har man gayi?
        kejriwal ji -deshbhakti ki isq nahi hai aasan, bus itna samjh lije
        ek aag ka dariya hai, aur doobke jana hai,

        by the way thanks mujhe ek title mil gaya apke comment se

  1. India may aajkal ease netao ki hi mauj hai, ab shri raj thakre ko hi dekh lo,
    dharam aur chetrawad ki aag may kahi jal na jaye hamara india;

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s