अन्ना तेरा दर्द ना जाने कोइ !! तेरा दर्द ना जाने कोइ !!

अन्ना तेरा दर्द ना जाने कोइ !!                                                                                                                               हफ़्ते भर पेह्ले दो पोस्ट लिखा  था -१-दो हन्सो का जोड़ा बिछड़ गयो रे…..! २-काजल की कोठरि मे कालिख तो लागे हि लागे, दोनो हि पोस्ट मे अन्ना जि और केज्रिवाल जी के अलग होने कि सम्भवना और राजनिति मे केज्रिवाल जि कि मह्तवाकान्छा की चाहत को दर्शाया गया था।

अन्ना जी के अन्तरात्मा की अवाज को केजरिवाल जि मेहसुस नहि कर सके।अन्ना जी के चरित्रा और निस्ठावान समाजसेवा कि भावना को केजरिवाल जि ने महत्वा नहि दिया। कुमार विश्वास जी ने तो हद करदि, अपने    फ़ बि  वाल पे उन्होने आज अन्नाजी को हि झुठा करार दिया, उन्होने कहा- “मुझे लगता है कि ये नव-जागरण देश का है ,किसी भी व्यक्ति-आकृति का नहीं ! जंतर-मंतर से उठते समय अन्ना ने कहा था कि अब किसी राजनैतिक पार्टी से मुझे कोई आशा नहीं है, अतः अब मैं राजनैतिक-विकल्प दूंगा ! अन्ना ने ही अरविन्द और बाकी साथियों से ये कहा था कि फेसबुक,मेल और एस.एम्.एस. के ज़रिये देश से पूछो कि लोग क्या चाहते हैं ! दो बार पूछा भी ! लोगों ने कहा कि आन्दोलन को राजनैतिक विकल्प चाहिए !पर आज अब अन्ना ने आज कहा कि इन दोस्तों को मंच पर भी नहीं चढ़ने दूंगा, फेसबुक और नेट पर मुझे कोई भरोसा नहीं।”

कुमार विश्वास के बाद केजरिवाल जी ने भि कहा-“हमे अन्ना के फ़ैस्ले पे विश्वास नहि हो रहा,हमने तो वहि किया जो अन्ना ने कहा था।”

ये टिम केजरिवाल अन्ना जि को समझ नहि सके! अन्ना जि ने कितने हि बार कहा-“मै राजनिति मे कभि नहि आउंगा। हा! राजतनिति विकल्प जरुर पेश करुंगा।”

Image

आज कुछ लोग उन्हे नरम और गर्म दल के रुप मे पेश कर रहे है, कुछ लोग अन्नाजि के खिलाफ़ बोल भि रहे है, कुछ लोग केजरिवाल के खिलाफ़ ह्ऐ।

इस बिच मैने अन्ना जि के दर्द को मेह्सुस किया, अन्ना जि इतने मायुस तो सरकार के कदम से भि नहि हुए, उन्होने कहा-“सरकार और कुछ असमाजिक तत्वो ने हमे तोरने कि  कोशीश कि मगर वो नकाम हुए, मगर आज हालत अलग हो गये” उन्का गला रुन्धा हुआ था । अन्ना जि टुट गये, वो टुटे मन से बाबा के बुलावे पे मिल्ने गये ,कल हि बाबा रामदेव और जेनरल वि के सिंह से मुलाकात कि। इस मुलाकात का अञांम किसि को नहि पता|

आपको याद होगा,अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि- यदि अन्ना ने समर्थन नहीं किया तो इंडिया अगेंस्ट करप्शन कभी भी राजनीतिक पार्टी कभी नहीं बनाएगी। अभि कुछ दिन पेहले भि यहि बात दुहरायि थि, मगर सत्ता कि चाहत हि कुछ एसि है कि मोह छुट्टा नहि।

हद है !! कि टीम केजरिवाल का केह्ना है कि उनहोने अन्ना को समुचे भारत का सर्वमन्या नेता बनाया, अब जब उन्हे अन्ना कि जरुरत है तो उन्होने हाथ खड़े कर दिये। मतलब क्या- मतलब इन पाँच कलियुगि पान्ड्व (१-केजरिवाल्,२-पि भुसण्,३-कु विश्वास्,४-सिसौदिया,५-गोपाल राय्) ने कृष्ण को (अन्ना) को हि महाभारत से अलग कर दिया! कि “आप हमे इस महाभारत मे सहयोग करके सत्ता सुख पाने मे मद्त करे या आप वापस जाये रालेगण सिद्धि”।

दोस्तो अन्ना जी ने ३५ साल से जयादा समय से रास्त्र कि सेवा मे है,और इन ३५ सालो मे पेहलि बार उन्हे कोइ छोर के गया, जहा बात है टिम  अन्ना कि तो हेग्रेजी,बेदि जी,  मेघा पाटेकर , रजिन्दर सिहं (जिन्होने पैसो के हेर​-फ़ेरि के डर से टिम छोड़ि थि) ,सुरेश पठारे , शिवेंद्र सिंह चौहान , सुनीता गोधरा, मधुरेश,शिवेंद्र सिंह  और स्वामि अग्निवेस (विवादित सदस्य टिम अन्ना) और श्गुन काज्मि ये सभि छोर गये या निकाल दिये गये वो भि केवल १८ महिने मे। केजरिवाल जि महाभारत कि लड़ायि एसे कैसे जितोगे?

बिना इमानदार और चरित्रावान सहयोगियो के आप अग्ले दस साल तक भि द्स के आकड़ो पे नहि पहुच सकते। अन्ना जी का दिल टुटा है तो अवाज देर तक सुनायि देगि।ये एक सच्चे और देश्-भक्त इनसान का दर्द है, जो आप्को हम्को और पुरे देश को देर तक सुनायि देगि।
सचमुच! आज ये मै मान गया भग्वान इमानदार लोगो कि बार्-बार परिक्छा लेते है, और हमे आशा है कि अन्ना इस परिक्छा मे सफ़ल होंगे।

अन्ना जी आप राले-गण मे हो या दिल्लि आप सदा हमारे दिल मे है, और अन्त मे-” जबे तोमार डाक सुने कोइ ना अशि तबे एकला चलो रे!”

नोट्-यहा लिखित पध पुर्ण्ता मेरि अन्तरात्मा कि अवाज है. किसि को ठेस लगा हो तो खेद है, प्रस्तुत तस्वीरे विभिन्ना फ़ बि वाल से

8 thoughts on “अन्ना तेरा दर्द ना जाने कोइ !! तेरा दर्द ना जाने कोइ !!

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s