हैरत में हू ! (गाँधी नगर बलात्कार कांड)

हैरत में हू !
एक नयी पार्टी जिसका केवल एक काम है नौटंकी परन्तु कहती है की हमारे अलावा कोई देश-भक्त नहीं  (कांग्रेस बी जे पि से भी आगे है ये आजकल) 

 अभी मैं गुरिया के ऊपर हुए अमानवीय अत्याचार के खिलाफ गया था । वहा उस देश-भक्त पार्टी के कम से कम २५० लोग थे, जो हॉस्पिटल के हर कमरे में घूम -घूम कर नारे लगा रहे थे डेल्ही पुलिस और सरकार हाय! हाय!, हॉस्पिटल के सरे मरीज और डॉक्टर उनसे परेशां थे, जब उन देश-भक्त कार्य-करता लोगो को कोई पुलिस देख जाये तो लगे गलिया देने और उनसे धक्का-मुक्की करने, सब जानते है ए सी पि पे पहला हाथ उस रावत नामक लरकी ने उठाया जिस पर प्रतिक्रिया उस पुलिस ने दी(पुलिस को सजा मिलनी चाहिए ) अब दोनों ने गलत किया , सजा भी दोनों को मिले,     Image

गाँधी नगर बलात्कार कांड पे कांग्रेस और बी जे पि दोनों दल भी अपनी-अपनी गोटिया सेक रहे है! शर्म किसी भी दल को नहीं,

परन्तु समाज कब जागेगा? केवल सरको पे ही जागते है वो भी घटना के बाद?
मोमबत्ती जलाओ और पुलिस को गलि|य दो! बस!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!१ हैरत में हु ? सरको पे लोग/स्त्री/बच्चे मरते रहते है एक बन्दा नहीं आता मदत को!
हैरत में हु की जब वो हॉस्पिटल पहुँच जाते है तब हजारो लोग क्यों आते है?
खैर, मेरे हैरत पे आप हैरत न करे । 
जागे और समाज को जगायेदेश हम सबका है, समाज हमसे है, पहले हमें अपने घरो के कचरों पे धयान देना होगा , फिर सरकार और प्रसासन से सवाल करे,

 

शब्दों पे नहीं भावनाओ पे धयान दे 

 

आपका 

 

विशाल

 

Advertisements