नेता तू जब-जब जागा है !! (A-POEM)

Image

नेता तू जब-जब जागा है,
जनता हुआ अभागा है,
हो कोई भी पार्टी सब एक है,
रंग अलग-अलग पर ढंग एक है,
खुसियाली पे लगा ब्रेक है ,
भ्रस्ताचारी सरे अब एक है!!
नेता तू जब-जब जागा है,
हुआ जनता का हर पल शोषण ,
काले-धन से करे खुद का पोषण,
गाँधी,सुभास भगत से नहीं अब
कलमाड़ी,राजा, येदु से होता नाम रौशन
करते एक-दुसरे पे आरोप-रोपण
नेता तू जब-जब जागा है!!
सच कहता तू-ए -विशाल
ये मुल्क बड़। अभागा है॥

by – vishal shresth

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s