Jab tak hai Jaan ( As long as i live )

😉  I love this poetry , in the movie jab tak hai jaan….. all songs written by gulzar sir, but my this fav song is written by shahrukh khan & aadi chopra, gulzar help to finish this song for movie , a dream project of late Yash Chopra, here the full song/Poetry with translation in english, enjoy!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!

  • Teri Aankhon Ki, Namkeen Mastiyaan….
  • Teri Hansi Ki, Beparwaah Gustakhiyaan….
  • Teri Zulfon Ki, Lehraati Angdaiyaan….
  • Nahi Bhoolunga Main….
  • Jab tak Hai jaan !!!
  • Jab tak Hai jaan !!!
  • the naughty fun in your eyes,
  • the carefree forwardness of your smile,
  • the wavy stretching of your hair,
  • I’ll not forget,
  • As long as I liv….
  • As long as I live …
  • Tera Haath Se Haath Chodnaa….
  • Tera Saayon Ka Rukh Modnaa…
  • Tera Palat Ke Phir Na Dekhna….
  • Nahin Maaf Karunga Main…
  • Jab Tak Hai Jaan !!!
  • Jab Tak Hai Jaan !!!
  • your leaving hand from hands,
  • your turning away from the shadows (of mine),
  • your not turning back to see,
  • I’ll not forgive,
  • As long as I live…..
  • As long as live …
  • .
  • Barisho Me Bedhadak, Tere nachne se..
  • Bat bat pe bewajah tere ruthne se..
  • Choti Choti teri bachkani badmashiyo se..
  • Mohabbat karunga Main…
  • Jab Tak Hai Jaan !!!
  • Jab Tak Hai Jaan !!!
  • your dancing freely in rains,
  • your getting angry on small things without reason,
  • your small, childish mischieves,
  • I’ll love them all,
  • As long as I live …
  • As long as I live ….
  • Tere jhute, kasame Waado se..
  • Tere jalte sulkate khaabo se..
  • Tere mehrehm, duwaao se…
  • Nafrat karunga Main
  • Jab Tak Hai Jaan !!!
  • Jab Tak Hai Jaan !!!
  • Your false promises,
  • your burning dreams,
  • your heartless wishes,
  • I’ll hate them all,
  • As long as I live….
  • As long as I live ..

jab tak hai jaan

vishal shresth

परिधान कैसे-कैसे (kajol & sekhar in a launch)

अमीष त्रिपाठी की पुस्तक ‘द ओथ ऑफ द वायुपुत्र’ के विमोचन के मौके पर पहुंचे काजोल और शेखर कपूर.

अमिष त्रिपाठी के किताब विमोचन समारोह में काफी प्रसन्न मुद्रा में शेखर और काजोल दिखाई दिये । एक मेरे प्रिय निर्देशक और दुसरे प्रिय अभिनेत्री।         Image

मगर आज का ये ब्लॉग इसलिए लिखा की फैशन की इस आंधी में क्या ड्रेस डिज़ायनर क्या खुद उस ड्रेस को पहन कर ट्रायल मारते है या मारती है?
आप आगे प्रदर्शित चित्रों में देखेंगे की किस तरह काजोल को जो की काफी खुबसूरत लग रही थी, कितनी मुस्किल हो रहा था अपने वस्त्रो को सँभालने में, इस प्रकार की मुस्किलो को संभालना इन उत्कृष्ट अभिनेत्रियों को आता है, किन्तु उन्हें भी इस तरह के वस्त्रो से परहेज करना चाहिए,उन्हें सारा ज़माना देखता है और उनकी नक़ल की जाती रही है, अत: कृपया करके अपने परिधानों को न केवल अपने शारीर के अनुसार वरन अपने सुविधा के अनुसार वरण (पहने) ।    Image
Image
शेखर कपूर ने जरुर काजोल को बताया होगा की वो जरा सावधानी से कपरो का चयन करे
Image
यहाँ भी कठिनाई महसूस हो रही है काजोल को
मैं तो मानता हु की ऐसे परिधान बनाने वालो से तौबा कर ले  काजोल व अन्य अभेनेत्रिया |
note——-सभी चित्र आजतक,इंडिया टुडे से लिए गए है, चित्रे कापी राईट कानून के अंदर हो सकती है, हमने केवल संग्रह कर मित्रो को जागरूक करने का प्रयास मात्र किया है।  धन्यवाद् !
              विशाल श्रेष्ठ